*जिले में अब 12 सप्ताह बाद लगायी जाएगी कोविशील्ड की दूसरी डोज*

स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय तद्नुसार राज्य स्वास्थ्य समिति,बिहार द्वारा तत्काल प्रभाव से जारी किया गया निर्देश

Prime news ads 1

लोगों में बढ़ रही टीकाकरण को लेकर जागरूकता

किशनगंज , 18 मई ।

विगत कुछ दिनों से जिले में कोरोना संक्रमितों की संख्या में कमी आयी है। इस पर अपनी प्रतिक्रिया जाहिर करते हुए सिविल सर्जन डॉ. श्री नंदन ने कहा जिले में कोरोना के नये संक्रमितों की संख्या दिन व दिन कम होती जा रही है। वहीं ठीक हुए मरीजों की संख्या में इजाफ हो रहा है जो काफी संतोषजनक है। इस बीच कोविड टीकाकरण भी जिलें में जारी है। वतर्मान समय में दो अलग आयुवर्ग के लागों का कोविड टीकाकरण अलग-अलग स्थानों पर जारी है। 45 या इससे अधिक आयुवर्ग के लोगों का टीककारण जिले तथा प्रखण्ड स्तर सहित कई स्थानों पर जारी है।कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए सरकार द्वारा उपलब्ध करायी गयी वैक्सीन के प्रति लोगों में जागरूकता बढ़ रही है।

लोगों द्वारा टीकाकरण के लिए अपना ऑनलाइन पंजीकरण करवाते हुए नजदीकी टीकाकरण स्थल पर टीका लगवाया जा रहा है। सरकार द्वारा लगवायी जा रही कोविड-19 वैक्सीन की दो डोज लिया जाना जरूरी है । जिसके बीच सरकार व वैक्सीन एक्सपर्ट टीम द्वारा निर्धारित समय सीमा तय किया गया है। एक्सपर्ट टीम द्वारा वैज्ञानिक साक्ष्य के आधार पर वैक्सीन कोविशील्ड की दूसरो डोज की समय अंतराल में बदलाव किया गया है। अब लोगों को कोविशील्ड की दूसरी डोज 12 से 16 सप्ताह के बीच लगायी जाएगी।

कोविड-19 संक्रमण से बचाव के लिए लगाया जा रहा दूसरा टीका कोवैक्सीन की दूसरी डोज पूर्व की तरह 4 सप्ताह के अंतराल पर ली जा सकती है।

12 से 16 सप्ताह के बीच दूसरी डोज का फैसला कोविड की राष्ट्रीय कार्यरत टीम द्वारा लिया गया है
सिविल सर्जन डॉ श्री नंदन ने बताया की कोविड की राष्ट्रीय कार्यरत टीम द नेशनल टेक्नीकल एडवाइजरी ग्रुप ऑफ इम्युनाइजेशन (एनटीएजीआई) एवं नेशनल एक्सपर्ट ग्रुप ऑफ वैक्सीन एडमिनिस्ट्रेशन फॉर कोविड-19 द्वारा हुई बैठक में वैज्ञानिक साक्ष्यों के आधार पर कोविड-19 वैक्सीन कोविशील्ड की दोनों डोज के समय अंतराल में बदलाव की गयी । अब लोगों को कोविशील्ड के पहले डोज लेने के बाद 12 से 16 सप्ताह के बीच दूसरी डोज लगायी जाएगी।
स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा इस बदलाव को स्वीकृति देते हुए सभी राज्यों में इसे लागू करने का निर्देश जारी किया गया है। तदुपरांत राज्य स्वास्थ्य समिति,बिहार पटना ने निर्देश जारी किए है। कोविड-19 से बचाव के लिए लोगों को लगाया जा रहा दूसरा टीका कोवैक्सीन की दोनों डोज पूर्व की भांति 4 सप्ताह के अंतराल पर लगायी जा सकती है।

बढ़ते संक्रमण को देख लोगों में बढ़ रही टीकाकरण को लेकर जागरूकता :
सिविल सर्जन, डॉ श्री नंदन ने बताया ने बताया लोगों में कोविड-19 से बचाव के लिए किए जा रहे टीकाकरण के प्रति जागरूकता बढ़ी है। अब लोग स्वयं अपना पंजीकरण सरकार द्वारा दिए गए वेबसाइट https://selfregistration.cowin.gov.in/ पर करते हुए तय समय में अपने नजदीकी टीकाकरण स्थल पर जाकर टीका का दोनों डोज लगा रहे हैं। टीकाकरण स्थल पर कोविड-19 प्रोटोकॉल का पूरी तरह पालन किया जा रहा है। सभी टीकाकरण स्थल पर लोगों के लिए प्रतीक्षा स्थल, टीकाकरण केंद्र के साथ ही टीकाकरण पश्चात आधे घंटे तक चिकित्सक की निगरानी में रहने हेतु ऑब्जर्वेशन स्थल उपलब्ध है। टीका के लिए कतारबद्ध लोगों के बीच 2 गज की दूरी के साथ ही पूरी तरह मास्कबद्ध होने का ध्यान रखा जाता है। टीकाकरण के बाद भी स्वास्थ्य कर्मियों द्वारा लोगों को संक्रमण से बचाव के लिए जरूरी जानकारी दी जाती है जिससे संक्रमण की स्थिति को नियंत्रित किया जा सके।

जिले में 90 हजार से अधिक लोगों ने लिया है कोविड-19 का टीका :
जिले में अब तक 90 हजार 190 लोगों द्वारा कोविड-19 का पहला डोज जबकि 28 हजार 473 लोगों द्वारा दोनों डोज का टीका लगाया जा चुका है। जिसमे 18 – 44 वर्ष के कुल 6919 व्यक्ति , 45-59 वर्ष के 33103 व्यक्ति एवं 60+ के 28544 व्यक्ति का टीकाकरण किया जा चूका है वही 5826 स्वस्थ्कर्मी एवं 5473 फ्रंट लाइन वर्कर अपना दोनों डोज ले चुके है जिले के सदर अस्पताल के अलावा सभी प्रखंडों के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में कोविड-19 टीकाकरण केंद्र बनाया गया है। है। वैक्सीन की उपलब्धता के अनुसार जिले में कोविड-19 टीकाकरण हेतु विशेष कैम्प का भी आयोजन किया जाता है।

टीकाकरण के दौरान भी कोरोना नियमों का पालन करना जरुरी
सिविल सर्जन ने कहा यदि आप कोविड टीका लेने जा रहें हैं तो आपके लिए बहुत जरूरी है कि टीकाकरण सत्र स्थल पर आप कोविड नियमों का पालन करें। कोरोना संक्रमण फैलने के मुख्य कारणों में एक कारण वैसे लोग हैं जिनमें कोरोना संक्रमण के लक्षण दिखाई नहीं पड़ते किन्तु वह कोरोना संक्रमित रहते हैं। इनसे आपके कोरोना संक्रमित होने का खतरा बना रहता है। इसलिए जरूरी है कि जब भी आप कोविड टीका लेने जायें तो कोरोना नियमों की अनदेखी न करें।

*उचित तरीके से पहनें मास्क को उचित तरीके से पहनना आवश्यक*

सही तरीके से मास्क पहनना कोविड संक्रमण से बचाव का सबसे बुनियादी नियम है। इसके लिए जरूरी है कि आप उचित तरीके से मास्क पहनें। मास्क ऐसे पहने जिससे आपके नाक और मुंह दोनों लगातार ढ़का रह सके, मास्क को बार-बार हाथों से छूने से बचें। मास्क साफ और स्वच्छ हो, पुराने मास्क का उपयोग इस दिन न करें। कोशिश करें कि इस दिन आप दोहरा मास्क पहनें।टीकाकरण सत्र स्थल पर जाते समय अपने साथ सैनिटाईजर अवश्य रखें ताकि अपने हाथों को बार-बार विषाणु मुक्त कर सकें। टीकाकरण सत्र स्थलों पर किसी चीज को छूने से बचें। हाथों का बार-बार सैनिटाइज करना बहुत जरूरी है, क्योंकि हाथ हमारे शरीर के सबसे अधिक क्रियाशील अंग हैं।

Super market ads

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.