प्रेमी संग मिलकर सब्जी विक्रेता पति की हत्या कराने वाली पत्नी गई जेल

पति से नाराज थी पत्नी,प्रेमी संग मिलकर कराई हत्या

औरंगाबाद से विनय प्रसाद साहू

औरंगाबाद शहर के बीच दिनदहाडे़ सब्जी विक्रेता जीतू हत्याकांड में तीसरे दिन ही नगर थाना पुलिस ने मामले का खुलासा कर दिया है।प्रेमी के साथ मिलकर सुपारी कीलर से पति की हत्या कराने वाली पत्नी प्रभा देवी को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। पत्नी प्रभा देवी अपने पति जीतेश मेहता के साथ ही शहर के चित्रगुप्त नगर मुहल्ला में किराये के मकान में रहती थी।लेकिन उसका पटना के रहने वाले एक प्रेमी के साथ अफेयर था और पत्नी प्रभा ने पटना के प्रेमी के साथ मिलकर पति की हत्या की साजिश रची थी।

खुलासे में पत्नी के प्रेमी ने तीन सुपारी कीलर को हत्या के लिए मोटी रकम दिया था।जितू की पत्नी ने छह लाख में सुपारी कीलर के साथ डील किया और फिर डेढ़ लाख रुपए एडवांस देकर जीतू की हत्या करा दी।हालांकि घटना के दिन ही तीनों अपराधियों को अरवल पुलिस ने दबोच लिया था और पूछताछ के दौरान अपराधियों ने कई खुलासा किया,जिसके बाद पुलिस हत्या की साजिश रचने वाली पत्नी प्रभा देवी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।

एसपी कांतेश कुमार मिश्रा ने बताया कि अनुसंधान के क्रम में पत्नी की भूमिका संदिग्ध पायी गई। लिहाजा आरोपी पत्नी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। मामले में आगे की कार्रवाई की जा रही है। जो भी दोषी पाए जाएंगे, उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

बताते चलें कि प्रभा पहले जीतू के साथ पटना में रहती थी। वहीं किसी से उसका अफेयर था।जिसके बाद जीतू उसे लेकर औरंगाबाद चला आया था। जिससे खफा प्रेमी और जितू की पत्नी ने जीतू की हत्या की साजिश रच डाली।उसके बाद मंगलवार को दिन दहाडे़ सब्जी विक्रेता जीतू की हत्या की गई थी !हालांकि पुलिस की तत्परता से अपराधी और आरोपी पत्नी जेल के सलाखों के पीछे चले गए है।
गिरफ्तार अपराधियों विशाल, राजा एवं ने बताया कि अमित ने ही जीतू की हत्या के लिए चालीस हजार रुपए की सुपारी दी थी और उसी पैसे से पटना में पिस्टल और कारतूस खरीदे गए थे और सभी बस से घटना के एक दिन पूर्व ही औरंगाबाद आ गए थे। फिलहाल पुलिस इस हत्या कांड में शामिल सब्जी व्यवसाई की पत्नी की गिरफ्तारी के बाद इस कांड के मास्टरमाइंड अमित की गिरफ्तारी का प्रयास कर रही है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.