भारतीय राष्ट्रीय पत्रकार महासंघ की तहसील इकाई की ऑनलाइन बैठकें शुरू सदस्यों के सुख दुख की जानने की होगी पहल

जिलों व प्रदेशों की ऑनलाइन बैठक के लिए रूपरेखा तैयार

Banner 1

मुम्बई ब्यूरो / मिथिलेश मिश्रा

प्रयागराज-
भारतीय राष्ट्रीय पत्रकार महासंघ ने अपने ब्लॉक व तहसील स्तर के साथियों का सुख-दुख जानने के लिए ऑनलाइन बैठकों के माध्यम से नई पहल शुरू की है जिसमें तहसील से ऊपर के पदाधिकारी भी बैठक में शामिल हो रहे हैं तहसील के प्रत्येक सदस्यों का उत्साह काबिले तारीफ है

उल्लेखनीय है कि मई के अंतिम सप्ताह में प्रकोष्ठ एवं जोन प्रभारियों की बैठक में यह सुनिश्चित किया गया था कि प्रत्येक महीने के पहले रविवार को तहसील स्तर की बैठक में दूसरे रविवार को जिला स्तर की बैठक तीसरे रविवार को प्रदेश स्तर की बैठकें और चौथे रविवार को जोन व प्रकोष्ठ प्रभारियों की बैठक हर महीने नियमित रूप से की जाएगी इसका सकारात्मक परिणाम सामने आया है और नीचे से ऊपर तक के सभी पदाधिकारी एक दूसरे से रूबरू हो रहे हैं ऑनलाइन बैठक व्हाट्सएप समूह में की जा रही है और सभी अपनी अपनी बात रखने के लिए स्वतंत्र हैं केंद्रीय कार्यालय द्वारा देशभर के सभी प्रदेशों और कार्यरत मंडल व जिला इकाइयों के साथ-साथ तहसील स्तर पर भी व्हाट्सएप समूह बनाए गए हैं जिसमें भारी संख्या में लोग बढ़-चढ़कर बैठकों में भाग ले रहे हैं उनके उत्साह से महासंघ के शीर्ष पदाधिकारियों में भी आशा का नया संचार हुआ है और इस वैश्विक आपदा के समय में भी कलमकारों ने नई राह निकाल कर एक अनोखी पहल की है जिसका महासंघ के सभी सदस्यों ने पुरजोर स्वागत किया है।

तहसील स्तरीय बैठकों का दौर शुरू होने के बाद सदस्यों में भी काफी उत्साह देखा गया है इसी प्रकार जिला इकाइयों ने भी दूसरे रविवार को अपनी बैठक ऑनलाइन व्हाट्सएप समूह में करने का संकल्प दोहराया है और वह अभी से तैयारी में लग गए हैं प्रांतीय स्तर की बैठक में माह के तीसरे रविवार को 10 महीने से लगातार हो रही हैं जिसका बहुत ही उत्साहवर्धक परिणाम सामने आया है इसी प्रकार जोन व प्रकोष्ठ प्रभारियों में भी सक्रियता बढ़ी है और वे महीने के चौथे रविवार को अपनी अपनी प्रगति आख्या व्हाट्सएप समूह में प्रस्तुत करते हैं महासंघ में जहां एक और सदस्यों की संख्या में बढ़ोतरी हो रही है वही केंद्रीय कार्यालय द्वारा पत्रकार हितों की रक्षा के लिए नई-नई योजनाओं का संचालन करके उन्हें लाभान्वित किया जा रहा है ऑनलाइन सम्मान निचले पायदान तक दिए जाने से लोगों में हर्ष की लहर दौड़ गई है पत्रकार महासंघ की मासिक पत्रिका और वार्षिक संवाददाता डायरी के प्रति भी सदस्य भारी संख्या में आकर्षित हो रहे हैं जिससे उनका स्वरूप दिनों दिन निखर रहा है

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.