कोरोना काल मे योग के प्रति छोटे बच्चों व लोगों में बढ़ी रुझान

Banner 1

कोरोना काल मे योग के प्रति छोटे बच्चों व लोगों में बढ़ी रुझान, संक्रमण से बचने के लिए घरों में रहकर सेहत का ख्याल रख रहें लोग,योग से शरीर मे होता है प्रतिरोधक क्षमता का विकास

रिपोर्ट:-चन्दन झा

पोठिया(किशनगंज):-
कोरोना संक्रमण से बचाव को लेकर छोटे बच्चे सहित बड़े लोग भी घर में रहकर अपनी सेहत का ख्याल रख रहे हैं।लोगों की दिनचर्या भी बदल गई है। सुबह उठते ही भागमदौर की जगह अब लोग अपने दिन की शुरुआत योग और व्यायाम से कर रहे हैं।अपने परिवार के साथ योग ध्यान एवं व्यायाम कर रहे हैं।लोग अपनी सेहत का ध्यान रखने के साथ परिवार के अन्य सदस्यों को भी योग के प्रति प्रेरित कर रहे हैं।योग से शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता का विकास होता है।

खासकर बच्चों का योग के प्रति रुझान देखते बनता है।इस संदर्भ में पोठिया निवासी गोपाल अग्रवाल ने स्व्यंग व अपनी छोटी बच्ची को योग करते हुए बताया कि योग एवं व्यायाम करने से मानसिक शांति के साथ ही साथ तंदुरुस्ती बनी रहती है।इसके नियमित अभ्यास से शरीर कई रोगों से मुक्ति मिलती है।कोरोना से लड़ाई में योग कारगर है।हाल के दिनों में लोग योग और व्यायाम को अपनी दिनचर्या में शामिल कर लिएं हैं।वहीं ख्वाजा गरीब नवाज के डॉक्टर पी.के लाल ने बताया कि कोरोना को लेकर सतर्कता बहुत जरूरी है।विशेषकर बच्चों पर बहुत ध्यान देने की आवश्यकता है। कोरोना की यह दूसरी लहर बच्चों को प्रभावित कर रही है।कोरोना संक्रमित होने के बाद बच्चों की जिंदगी पर खतरा अधिक हो जाता है।क्योंकि छोटे बच्चे सांस में परेशानी और संक्रमण के बारे में भी नहीं बता पाते हैं।बच्चों के लिए अभी कोई वैक्सीन भी नहीं है।इसलिए बच्चों को लेकर काफी सावधानी बरतनी होगी।घर का बना भोजन बच्चों को खिलाएं।इसके साथ ही फलों और सब्जियों का सेवन अधिक कराएं।

अगर बच्चा बाहर की खाने की जिद करता है,तो उसे समझाए कि इस समय बाहर की फूड उनके लिए खतरनाक हैं।बच्चों को इम्यूनिटी बूस्ट करने के लिए मल्टी विटामिन दे सकते है।लेकिन इसके लिए चिकित्सक से पहले संपर्क कर लें।चार से छह सप्ताह में कोरोना का संक्रमण और तेजी से फैलने के संकेत मिल रहे हैं।बच्चों को बाहर मत जाने दें।अभिभावक बच्चों को पर्याप्त समय दें और इंडोर गेम के माध्यम से उनका मनोरंजन करें और कहानियों के माध्यम से उनका उत्साहवर्धन करते रहें।ताकि बच्चे अवसाद ग्रसित न हों।इंटरनेट और मोबाइल से दूरी बनाकर रखें।घर में बैठे रहने से बच्चों में मोटापा भी तेजी से बढ़ रहा है, जिससे उनमें कोविड का खतरा अधिक रहता है।रोग से लड़ने के लिए योग जरूर करवाएं ओर स्वयं भी करें।

फ़ोटो केप्शन:-कोरोना से बचाव हेतु योग करती छोटी बच्ची।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.