अब ई- मुलाकात के माध्यम से ही परिजनों से मिल सकेंगे जेल के बंदी, जेल प्रशासन गया

Banner 1

रिपोर्ट/विशाल वर्मा

गया। राज्य में तेजी से पैर पसार रहे कोरोना वैश्विक महामारी पार्ट टू संक्रमण के बीच केंद्रीय कारा में सुधार सेवाएं निरीक्षणालय ने बंदियों के मुलाकात की सुविधा को लेकर अनूठी ठोस पहल की है, इसके तहत गया सेंट्रल जेल में बंद अपनों से मुलाकात के लिए आन लाइन आवेदन घर बैठे कर सकेंगे। राज्य कारा विभाग ने मुलाकात की प्रक्रिया सरल बनाने के लिए ( ई-मुलाकात) आन लाइन सिस्टम शुरू कर दिया गया है। इसकी सूचना ईमेल एवं मोबाइल पर दी जाएगी। इसके लिए राज्य कारा एवं सुधार सेवाएं की बेबसाइट ‘ई प्रिजंस डॉट एन आइसी डॉट इन’ है अपने बंदी का विवरण देखकर मुलाकाती पर्ची के लिए आवेदन कर सकेंगे। गया सेंट्रल जेल के अधीक्षक वीके अरोरा ने बताया कि कारा महानिरीक्षक (आइजी) के निर्देश पर ई-मुलाकात की प्रक्रिया शुरू की गई है। कोरोना संक्रमण के दौरान से हीं बंदियों से परिजनों की सीधी मुलाकात बंद है। संक्रमण से बचाव को लेकर सोशल डिस्टेंसिंग का अनूपालन कराया जा रहा है। ई-मुलाकात से जेल में बंद बंदियों को इस संक्रमण से एक हद तक सुरक्षित किया जा सकता है। बंदियों की सूविधा के लिए कारा विभाग द्वारा 13 अक्टूबर 2020 से हीं ई-मुलाकात शुरू कर दी गई है। बंदियों से उनके रिश्तेदार अथवा परिजन व अधिवक्ता वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से आन लाइन मुलाकात कर सकते हैं। इससे जेल में बंद बंदियों की मुलाकात आसान हो जाएगी। अब मुलाकातियों को जेल में बंद बंदियों से मिलने के लिए काउंटर पर लंबी लाइन नहीं लगानी पड़ेगी। जेल उपाधीक्षक रामनूज राम ने बताया
मुलाकाती के लिए जेल प्रशासन ने जेल के महिला एवं पुरुष बंदी के लिए अलग-अलग व्यस्था की है। अब तक कई बंदी इस सुविधा का लाभ ले चुके हैं। ‌लिंक नहीं मिलने पर सरकारी एंड्रॉयड फोन मोबाइल फ़ोन से बातचीत कराई गई है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.